Home > Delhi NCR > नोटबंदी से जमा रकम को सस्ते होम लोन के तौर पर बांटेगी मोदी सरकार

नोटबंदी से जमा रकम को सस्ते होम लोन के तौर पर बांटेगी मोदी सरकार

November 30, 2016 | By

नोटबंदी के बाद भले ही विश्लेषक हाउसिंग सेक्टर की ग्रोथ में गिरावट का अनुमान लगा रहे हों, लेकिन मोदी सरकार ने इसे रफ्तार देने के लिए एक योजना तैयार की है। इकनॉमिक टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक डीमॉनेटाइजेशन से जुटाई गई रकम को नरेंद्र मोदी सरकार सस्ते होम लोन के तौर पर बांटने पर विचार कर रही है।

property

इस स्कीम को लेकर सरकार और रिजर्व बैंक के बीच बातचीत चल रही है। रिपोर्ट के अनुसार यह स्कीम 2017 के आम बजट से ठीक पहले घोषित की जा सकती है। माना जा रहा है कि इस साल आम बजट फरवरी के पहले सप्ताह में ही पेश किया जा सकता है।

इस स्कीम का पूरा खाका नोटबंदी के बाद जमा होने वाली राशि के आकलन के बाद तैयार किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार केंद्र सरकार की नजर इस बात पर है कि नोटबंदी के बाद बैंकों में जमा होने वाली रकम को सस्ते होम लोन के तौर पर बांटा जाए। सरकार इस स्कीम के तहत 50 लाख रुपये तक के होम लोन 6 से 7 पर्सेंट की ब्याज दर पर देने की योजना बना रही है। सस्ते होम लोन का तोहफा उन लोगों को दिया जाएगा, जिन्होंने पहले घर के लिए लोन न लिया हो। इसके जरिए सरकार अधिक से अधिक लोगों को घर मुहैया कराने के लक्ष्य की ओर बढ़ना चाहती है। यही नहीं इस स्कीम से मंदी की मार झेल रहे प्रॉपर्टी सेक्टर को भी गति मिल सकेगी।

बीते कुछ वक्त से रीयल एस्टेट सेक्टर मंदी के हालात से गुजर रहा है। 8 नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद किए जाने के ऐलान के बाद हालत और खस्ता होने की आशंका है। हालांकि यह बात भी कही जाती रही है कि नोटबंदी के बाद बैंकों में बड़े पैमाने पर कैश पहुंचने के बाद बैंकों की ओर से लोन की दरों में कटौती की जा सकती है।

भले ही कुछ रेटिंग एजेंसियों और एनालिस्ट्स ने नोटबंदी के फैसले को प्रॉपर्टी सेक्टर के लिए नुकसानदायक करार दिया हो, लेकिन इंडस्ट्री के कुछ एक्सपर्ट्स ने इसका स्वागत भी किया है। इनका कहना है कि नोटबंदी के फैसले से इंडस्ट्री में पारदर्शिता आएगी और लंबे वक्त में इससे स्थिरता का माहौल बनेगा।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
About Author
Prop Daily

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>