Tag Archives: प्रॉपर्टी

2016_12image_14_05_236188210206571018-ll

घर या प्रॉपर्टी खरीदी है तो हो जाएं सावधान, इनकम टैक्स विभाग करेगा पूछताछ

प्रॉपर्टी खरीदने में काला धन इस्तेमाल करने वालों के बुरे दिन आने वाले हैं। अगर आपने घर या प्रॉपर्टी खरीदी है तो तैयार हो जाइए सरकार आपसे ये सवाल करने वाली है कि आपके पास इसके लिए पैसा कहां से आया? सिर्फ खरीदने वाले ही नहीं बल्कि बेचने वाले से भी पूछा जाएगा उसने ये घर कब खरीदा था और इसके लिए उसके पास पैसा कहां से आया था?

2016_12image_14_05_236188210206571018-ll

रियल एस्टेट में काला धन खपाने के कई तरीके

बता दें कि इनकम टैक्स की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में रियल एस्टेट में सबसे ज्यादा कालाधन लगा हुआ है। यहां काला धन खपाने के कई आसन तरीके हैं। लोग प्रॉपर्टी के दाम कम बताते हैं जिससे स्टांप ड्यूटी बचती है और बाकी कैश दे देते हैं। कई लोग टैक्‍स डिपार्टमेंट की नजरों से बचने के लिए अपने करीबी रिश्‍तेदारों, नौकरों और ड्राइवरों के नाम से प्रॉपट्री खरीदते हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि महंगी प्रॉपर्टी का लगभग 30 फीसदी बेनामी ट्रांजेक्‍शन हो सकता है। वहीं जमीन के मामले में यह 30 फीसदी से भी अधिक बेनामी ट्रांजेक्‍शन हो सकता है।

इनकम टैक्स विभाग करेगा पूछताछ

नया इनकम टैक्स कानून आने के बाद अब इनकम टैक्स डिपार्टमेंट घर खरीदने वालों को नोटिस भेज कर पैसे का सोर्स पूछने वाला है, हालांकि डिपार्टमेंट पहले भी ऐसा करता रहा था। नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स बेनामी प्रॉपर्टी पर शिकंजा कसने के लिए घर बेचने और खरीदने वाले दोनों से ही पूछताछ करने की तैयारी में है।

msid-55326940,width-400,resizemode-4,89

रियल स्टेट पर पड़ेगा असर, प्रॉपर्टी रेट्स में आ सकती है गिरावट

ब्लैक मनी को खत्म करने के लिए 500 और 1000 के नोटों का किया गया मोनेटाइजेशन का सबसे ज्यादा प्रभाव रियल्टी और गोल्ड सेक्टर पर पड़ेगा। साथ ही डिजिटल पेमेंट्स कंपनियों में हिस्सेदारी रखने वालों की चांदी होगी। रियल्टी सेक्टर पर पड़ने वाले सबसे अधिक असर से प्रॉपर्टी के रेट्स गिर सकते हैं।

msid-55326940,width-400,resizemode-4,89

रियल स्टेट में ब्लैक मनी का काफी इस्तेमाल होता है। 500 और 100 के नोट्स के डिमोनेटाइजेशन के बाद रियल स्टेट सेक्टर में पारदर्शिता आने की उम्मीद है। इस कदम से प्रॉपर्टी की कीमतों में गिरावट लगभग तय मानी जा रही है। ऐसे में निवेशक रियल स्टेट में पैसा नहीं लगा पाएंगे और बिल्डर्स को मजबूरन प्रॉपर्टी के रेट्स गिराने होंगे। दिल्ली-एनसीआर में इस का सबसे ज्यादा असर देखने को मिलेगा क्योंकि यह मार्केट कैश में कारोबार के लिए जाना जाता है।

कितनी होगी गिरावट
ऐस्टेट एजेंट्स असोसिएशन ऑफ इंडिया के प्रेजिडेंट यशवंत दलाल के अनुसार, ‘प्रॉपर्टी मार्केट्स में 30 प्रतिशत के करेक्शन की उम्मीद है। मार्केट्स कंडीशन्स को देखते हुए ऐसे बिल्डर्स को भी रेट्स घटाने होंगे जो चेक से पेमेंट लेते हैं। दिल्ली-एनसीआर के अलावा छोटे शहरों के प्रॉपर्टी रेट्स पर भी इसका काफी असर पड़ेगा।’

इसके अलावा प्रॉजेक्ट्स में देरी की भी समस्या आएगी। निवेश न होने की स्थिति में बिल्डर्स निमार्ण कार्य की गति कम कर देंगे। डीएलएफ के सीईओ राजीव तलवार का मानना है कि सरकार के इस कदम के बाद से रियल्टी सेक्टर ज्यादा पारदर्शी हो जाएगा।

दिल्ली के भजनपुरा में कार सवार बदमाशों ने प्रॉपर्टी डीलर की हत्या की, बेटा घायल

दिल्ली के भजनपुरा इलाक़े में एक शख़्स की गोली मार कर हत्या कर दी गई है। ताबड़तोड़ फ़ायरिंग में तीन लोग घायल हुए हैं।
हमलावर स्विफ़्ट डिज़ायर कार में आए थे।

bhajanpura-firing_650x400_41466489050उन्होंने बाइक सवार शख़्स और उसके बेटे को गोली मारी। बाप की मौक़े पर ही मौत हो गई, जबकि बेटे को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बदमाशों ने एक राहगीर को भी गोली मारी है। मृतक शख़्स प्रॉपर्टी का काम करता था।

पुलिस का अनुमान है कि किसी प्रॉपर्टी विवाद के चलते इस हत्या को अंजाम दिया हो सकता है। फिलहाल पुलिस ने इलाके को कॉर्डन कर दिया है और फॉरेंसिंक टीम का इंतजार किया जा रहा है।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...